ऑक्सिजन बैड दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला शातिर गिरफ्तार

ऑक्सिजन बैड दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला शातिर गिरफ्तार

जयपुर। राजधानी के बजाज नगर थाना पुलिस ने कोरोना से जूझ रहे पीड़ितों से ऑक्सिजन बैड दिलाने के नाम पर हजारों रुपए की ठगी करने वाले एक शातिर ठग को गिरफ्तार किया है। फिल​हाल आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस उपायुक्त जयपुर पूर्व अभिजीत सिंह ने बताया कि बजाज नगर थाना पुलिस ने जयपुरिया अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीज को ऑक्सिजन बैड दिलाने के नाम पर पीड़ित से करीब 20 हजार रुपए की ठगी करने वाले शातिर ठग लालचन्द उर्फ कान्हा (32) निवासी गांव मातासुका पोस्ट देवीकंला वाया मारोठ जिला नागौर हाल कालवाड रोड करधनी को गिरफ्तार किया है।

आरोपी से पूछताछ में सामने आया कि वह महंगी होटलों में रूककर मौज मस्ती करने व शराब पीने का आदी है। वह अस्पतालों में घूमकर कोरोना से पीड़ित मरीजों के परिजनों से मिलकर बड़े अस्पतालों में भर्ती करवाने, ऑक्सिजन बैड दिलवाने, सही ईलाज करवाने के नाम पर धोखाधडी पूर्वक रुपए प्राप्त करता है। परिजनों के साथ अस्पताल में घूमकर वार्ड बाॅय जैसे छोटे कर्मचारियों पर रौब झाड़कर अपना रूतबा कायम करता है। उसके बाद परिजनों को डरा धमकाकर रुपए वसूलता है। उनसे शराब की बोतल मंगवाना, मास्क व सेनेटाईजर खरीदवाकर प्राप्त करता है।

थानाधिकारी रमेश सैनी ने बताया कि 10 मई को परिवादी देवेन्द्र कुमार जंगलानी निवासी मालवीय नगर जयपुर ने मामला दर्ज करवाया था कि वह अपने पिताजी हासाराम का कोरोना का ईलाज करवाने के लिए 9 मई को थाना इलाके में स्थित जयपुरिया अस्पताल लेकर आया था। जहां पर लालचन्द नाम का व्यक्ति मिला, जिसने अपने आप को सरकारी कर्मचारी बताते हुए ऑक्सिजन बैड दिलवाने के नाम पर 13 हजार 500 रुपए ले लिये व उसके बाद दुर्लभजी अस्पताल में भर्ती करवाकर अच्छा ईलाज करवाने के नाम पर डरा धमकाकर 20 हजार और मांगने लगा। इसके बाद शराब की बोतल भी मंगवाई व करीब 5 हजार रुपए की कीमती के मास्क व सेनेटाईजर भी खरीदवा कर ले लिए और पीड़ित की गाड़ी लेकर होटल से अस्पताल आ जा रहा है। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को शराब के नशे में जयपुरिया अस्पताल में परिजनों के साथ हंगागा मचाते हुए धर-दबोचा। फिलहाल आरोपी से पूछताछ की जा रही है, पूछताछ में और भी कई मामले खुलने की आंशका जताई जा रही है।