भामाशाहों के बिना, हमारा होना ना होने के बराबर : नारायण सेवा संस्थान

भामाशाहों के बिना, हमारा होना ना होने के बराबर : नारायण सेवा संस्थान

जयपुर। होटल जयपुर हेरिटेज में आयोजित आत्मीय स्नेह मिलन समारोह में कोरोनाकाल में उनकी मदद के लिए भामाशाहों को सम्मानित किया गया है। कोरोनाकाल में, भामाशाहों ने दान देकर नारायण सेवा संस्थान द्वारा जरूरतमंदों, नि: शक्तों और दिव्यांगों में निशुल्क राशन और मास्क वितरण, निशुल्क कृत्रिम अंग शिविर का आयोजन किया गया। सराहनीय कदमों को देखते हुए भामाशाहों ने नारायण सेवा संस्थान की प्रशंसा की।

इस मौके पर संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने कहा कि “भामाशाहों के बिना, हमारा होना ना होने के समान है। भामाशाहों ने कोरोना जैसी कठिन स्थिति में असीमित योगदान के जरिए जरूरतमंदों और दिव्यांगों की मदद में बड़ा योगदान दिया है।” कार्यक्रम के दौरान एनएसएस के जयपुर प्रमुख मनीष खंडेलवाल ने बताया, “संस्थान में हजारों से अधिक पीड़ित लोगों के ऑपरेशन, निशुल्क जांच, निशुल्क राशन वितरण, असहाय को सिलाई, कंप्यूटर, मोबाइल रिपेयरिंग इत्यादि कोर्स निशुल्क करवाए जाते है।” कार्यक्रम में दान दाताओं में छीतर मल गुप्ता, हितेश भट्ट, हितेश सेन , निवारू आश्रम प्रमुख हुकम सिंह, सुनील कुमार सेन, समाजसेवी शीतलमल गुप्ता, समाजसेवी रुप कांता जैन, समाजसेवी सावित्री गुप्ता ने भाग लिया।