पत्नी और मासूम बच्चे को मरकर केन्द्रीय विद्यालय के टीचर ने ने खुद को लगाया फंदा

पत्नी और मासूम बच्चे को मरकर केन्द्रीय विद्यालय के टीचर ने ने खुद को लगाया फंदा

जयपुर। प्रताप नगर इलाके के लाजपत नगर में रहने वाले केन्द्रीय विद्यालय के शिक्षक ने गुरूवार शाम अपनी पत्नी और तेरह माह के बच्चे की हत्या करने के बाद खुद ने फंदा लगा लिया। प्रताप नगर पुलिस ने तीनों के शव अस्पताल की मोर्चरी में रखवा कर गहनता से जांच शुरू कर दी है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सात नम्बर बस स्टैंड के पास लाजपत नगर में गिर्राज मीणा अपनी पत्नी और बच्चों के साथ किराए के फ्लैट में रहता था। गुरुवार शाम को पति गिर्राज मीणा का अपनी पत्नी समीता मीणा से किसी बात पर झगड़ा हो गया। रात करीब 9 बजे प्रताप नगर पुलिस को कन्ट्रोल रूम से सूचना मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने अन्दर देखा तो गिर्राज फन्दे पर लटका था और कमरे में उसकी पत्नी समीता और तेरह माह के बेटे कुणाल का रक्तरंजित शव पड़ा था। पुलिस ने एफएसएल टीम को बुलाकर साक्ष्य जुटाने के बाद तीनों के शवों को मोर्चरी में रखवाए हैं। मामले की जानकारी मिलते ही डीसीपी ईस्ट अभिजीत सिंह, एडीसीपी अशोक चौहान और एसीपी सांगानेर नेमीचंद खारिया भी मौके पर पहुंच गए। मृतक गिर्राज और उसकी पत्नी समीता दोनों ही केन्द्रीय विद्यालय में शिक्षक हैं। ऐसे में आर्थिक तंगी के बजाय घरेलू विवाद की ज्यादा आशंका लग रही है। बच्चे की हत्या गला रेतकर की गई है, जबकि समीता की हत्या किस वस्तु से चोट मारकर की गई, इस बात का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हो सकेगा। पुलिस ने प्रथम दृष्टया मौके पर सुसाइड नोट होने की बात से इनकार किया है। मृतक मूलरूप से चाकसू कोटखावदा इलाके के महेशपुरा का रहने वाला बताया जा रहा है, जहां से परिजन सूचना मिलते ही जयपुर के लिए रवाना हो गए हैं।