ट्रांसफार्मर में शार्ट सर्किट के बाद मकानों में दौड़ा करंट, झुलसने से एक व्यक्ति की मौत, चार घायल

ट्रांसफार्मर में शार्ट सर्किट के बाद मकानों में दौड़ा करंट, झुलसने से एक व्यक्ति की मौत, चार घायल

जयपुर। राजधानी के हरमाड़ा थाना इलाके में रविवार को उस समय हडकंप मच गया जब सेवापुरा कचरा प्लांट में सड़क पर लगे एक ट्रांसफार्मर में शार्ट सर्किट के बाद दो दर्जन मकानों में करंट दौड़ गया। इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि एक महिला समेत चार लोग झुलस गए। हादसे के बाद बस्ती में रहने वाले लोग दहशत में आ गए। वहां चीखपुकार मच गई। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। करंट से झुलसे लोगों को नजदीकी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया। वहां बिजली सप्लाई को बंद करवाया गया। मौके पर बिजली कंपनी के तकनीकी अधिकारी कर्मचारियों को भी बुलाकर ठीक करवाया गया। बताया जा रहा है कि यह सभी इसी बस्ती में करीब 20 से 25 कोठरियों में किराए से रहते थे। इन सभी कोठरीनुमा घरों में बिजली कनेक्शन इसी ट्रांसफार्मर से लाइन जोड़कर लिया गया था।

हरमाड़ा थानाधिकारी चैनाराम बेड़ा ने बताया कि हादसे में मरने वाले व्यक्ति की पहचान 45 वर्षीय डालिम के रूप में हुई है। वहीं मोहम्मद रफीक (30), पांच वर्षीय महरान, तीन वर्षीय शाहबान सहित फातिका बेगम झुलस गए। सभी पश्चिमी बंगाल हाल सेवापुरा कचरा प्लांट गोदाम में रहते है और मजदूरी का काम करते है।

उपनिरीक्षक राकेश ने बताया कि सेवापुरा कचरा प्लांट के पास बस्ती में अजय अग्रवाल का अगरबत्ती बनाने का कारखाना है। यहां काफी लोग काम करते है। अजय अग्रवाल ने ही बस्ती में ही करीब 25 से 30 लोहे की छोटी-छोटी कोठरीनुमा कमरे बना रखे है। प्लांट में लगे ट्रांसफार्मर से इन कोठरियों में बिजली की सप्लाई होती है।

रविवार सुबह अचानक ट्रांसफार्मर में शॉर्ट सर्किट हुआ। इसके बाद करंट बिजली सप्लाई के तारों में दौड़ते हुए उन कोठरियों तक पहुंच गया। इससे वहां घरों में रखे इलेक्ट्रिक उपकरण जल गए। यह देखकर वहां रहने वाले लोगों ने बिजली के कनेक्शन बंद किए। तारों को नंगे हाथों से छूआ तो वे झुलस गए। इससे मृतक मोहम्मद रफीक सहित दो बच्चे व एक महिला व एक युवक ज्यादा झुलस गए। जिन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां उनका इलाज जारी है। वहीं दो घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है।