कोरोना मरीज को आईसीयू बैड दिलाने के लिए रिश्वत लेने वाला युवक चढ़ा एसीबी के हत्थे

जयपुर। कोरोना पीड़ित को आर.यू.एच.एस. में आई.सी.यू बैड व अन्य सुविधाऐं दिलवाने की एवज में 23 हजार रुपए रिश्वत लेने के आरोप में एक आरोपी को एसीबी टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक बी एल सोनी ने बताया कि एसीबी की एस.आई.यू टीम को परिवादी ने शिकायत दी थी कि उसके परिजन, जो कोरोना से पीड़ित है। जिन्हें आर.यू.एच.एस. में आई.सी.यू बैड व अन्य सुविधाऐं दिलवाने की एवज में मैट्रो मास अस्पताल, मानसरोवर, जयपुर के मेल-नर्स अशोक कुमार गुर्जर द्वारा 1 लाख 30 हजार रुपए रिश्वत मांगकर परेशान किया जा रहा है। आरोपी पूर्व में भी परिवादी से 95 हजार रुपए वसूल चुका है। जिस पर एसीबी की एस.आई.यू. टीम के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बजरंग सिंह के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन कर उप अधीक्षक पुलिस कमल नयन एंव उनकी टीम ने ट्रेप कार्रवाई करते हुए आरोपी अशोक कुमार गुर्जर पुत्र उदयभान गुर्जर निवासी ग्राम मदनपुर, पुलिस थाना बयाना, जिला भरतपुर हाल मेल-नर्स मैट्रो मास अस्पताल, मानसरोवर, जयपुर को परिवादी से 23 हजार रुपए की रिश्वत राशि लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एम.एन. के निर्देशन में आरोपी के निवास एवं अन्य ठिकानों की तलाशी की जा रही है। साथ ही भ्रष्टाचार के एस खेल में और कितने लोग शामिल है इसके बारे में भी आरोपी से पूछताछ की जा रही है।